राधा- कृष्ण की महिमा का वर्णन भजन संध्या Shri Krishna bhaja

जय श्री कृष्ण दोस्तों आज हम लेकर आए हैं श्रीकृष्ण और राधा रानी जी की महिमा का वर्णन श्रीकृष्ण भजन, श्रराधा रानी भजन,जन्माष्टमी, राधाष्टमी, होली, भागवत कथा, गीता पाठ, कीर्तन, भजन संध्या, फाल्गुन मेला मे वैष्णव, ब्रिजबासी, वृंदावन, मथुरा, shri KrishnaJanmashtami,  shri Krishnabhajan, गौड़िया संप्रदाय, श्री श्याम भक्तों एवं इस्कॉन समुदाय के बीच प्रसिद्ध श्री कृष्ण भजन। सभी के हृदय में अमृत रस घोलने वाला भजन।

Shri Krishna bhaja राधा- कृष्ण की महिमा का वर्णन भजन संध्या

तूने जो कमाया है उसे दूसरा ही खायेगा ।
राधा नाम जपते जा मन भ्रम टूट जाएगा ।
तूने जो............................... टूट जाएगा ।।
कृष्ण नाम अमृत है तो राधा है संजीवनी ।
भाव में तू भरते जा मुक्ति मिल जाएगी ।।
तूने जो ............................... टूट जाएगा ।।
प्रेम ही सुधारस है, प्रेम है तो जीवन है ।
राधा राधा रटते जा तुझे कृष्ण मिल जाएंगे ।
तूने जो ............................... टूट जाएगा ।।
प्रेम है भक्ति का सार भक्ति ही है तारण हार ।
राधा कृष्ण रटते जा मन मोह छूट जाएगा ।
तूने जो............................... टूट जाएगा ।।
जब तलक सांसे तुझमें तब तलक ये दुनियाँ है ।
सांसे टूट जाएगी तो सब अपने छूट जाएंगे ।
तूने जो........................... टूट जाएगा ।।
कृष्ण ने सब खोया था फिर भी मुस्कुराया है ।
राधे राधे भजले मन तू पाप मिट जाएगा ।
तूने जो............................... टूट जाएगा।।

Post a Comment

0 Comments